सिविल ठेकेदार कैसे बनते है,सिविल ठेकेदार से जुडी सभी फायदे और नुक़सान

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते है की सिविल ठेकेदार कैसे बनते है और इससे पैसे कैसे और कितना कमाते है 

तो आप सही जगह पर है यहाँ पर हम आपको सिविल ठेकेदार से जुडी सभी फायदे और नुक़सान के बारे में बताएँगे। 


 ठेकेदार किसे कहते है 

दोस्तों आगे जानकारी देने से पूर्व मै चाहता हु की आप सबसे पहले ये जाने की ठेकेदार किसे कहते है क्युकी जब तक हम इक ठेकेदार की जिम्मेदारियों को नहीं समझेंगे तब तक हम ठेकेदार को नहीं समझ सकते है 
दोस्तों ठेकेदार नाम से ही कुछ अर्थ निकल जा रहा है जैसे ठेका + दार मतलब अपनी जिम्मेदारी पर काम करने वाला व्यक्ति जिसे हम ठेकेदार कहते है 
ठेकेदार एक ऐसा व्यक्ति होता है जिसके पास अच्छी मैनजमेंट योग्यता होती है जो कई सरे आदमियों से बहुत ही कम समय और पैसे में काम करके दे सके 

 ठेकेदार के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

दोस्तों वैसे तो ठेकेदार जितना पढ़ा लिखा हो ठेकेदार और  ग्राहक के लिए उतना ही अच्छा होता है किन्तु ठेकेदार अगर  थोड़ा भी पढ़ा है तो ठीक है 

ठेकेदार को  पढ़ा लिख होना चाहिए ही की अपने पैसे का हिसाब किताब खुद से कर सके यह किसी भी ठेकेदार के लिए फायदेमंद होगा 

सिविल ठेकेदार कैसे बनते है

दोस्तों ठेकेदार मुख्यतः  दो प्रकार के होते है 

  1. सरकारी ठेकेदार 
  2. प्राइवेट ठेकदार 

सरकारी सिविल ठेकेदार :-

 सरकारी ठेकेदार सभी सरकारी टेडंर और प्राइवेट टेंडर  सकता है जिसके लिए ठेकदार को भारत सरकार से अनुमति लेनी होती है जिसके लिए ठेकेदार को अपने कुछ् कागजात भारत सरकार को देने होते है 

प्राइवेट सिविल ठेकेदार :-

 प्राइवेट ठेकेदार केवल प्राइवेट ठेका ही ले सकता जिसके लिए उसे भारत सरकार से कोई भी अनुमति नहीं लेनी होती है 
किन्तु ऐसे ठेकेदार को सरकारी टेंडर या ठेका लेने की अनुमति नहीं होती। प्राइवेट ठेकेदार ऐसे ठेकेदार होते है जो की नए ठेकदार होते है 

सिविल ठेकेदार किस तरह से  काम करते है

किसी भी व्यक्ति को ठेकेदारी करने के लिए सबसे पहले उसे उस फिल्ड की पूरी जानकारी होनी चाहिए जिसमे वह ठेकेदारी करने जा रहा है 

उसे यह ज्ञात्त होना चाहिए की किसी काम को कितने आदमी द्वारा कितने दिनों में ख़तम कर लिया जा सकता है

ठेकेदार केवल अपने मजदूरों को मार्गदर्शन करता है और उनसे काम समय में ज्यादा काम निकलना ही किसी भी ठेकेदार का मुख्या गुण होता है 

सिविल ठेकेदार कैसे कमाते है 

दोस्तों जो सरकारी ठेकेदार होते है उनको तनख्वाह मिलती है किन्तु जो प्राइवेट ठेकेदार होते है उन्हें कोई भी तनख्वाह नहीं मिलती है

किन्तु दोनों ही तरह के ठेकेदार ठीक उस तरह से कमाते है जैसे कोई दुकानदार 10 रुपये में सामान लाकर उसे 12 रुपये में बेचता है और वो 1 रुपये कमा लेता है 

और एक रुपये में वो अपने दूकान का किराया और ट्रांसपोर्ट इत्यादि का  खर्च निकाल लेता है ठीक उसी प्रकार यह ठेकेदार भी कमाते है 

मान लीजिये कोई ठेकेदार कोई ठेका एक करोड़ रुपये का लिया तो उसमे से उसे केवल 20 प्रतिशत ही बचा तो उसे कुल 20 लाख रुपये तक की बचत हो जाती है 

इन्हे भी पढ़े 

1 Trackback / Pingback

  1. हैंड सैनिटाइज़र का बिज़नेस शुरू करे, और हर महीने लाखो कमाए, जाने कैसे ?? -

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*