Poultry farming business & Chicken farming for beginners in Hindi 2020

दोस्तों क्या आप भी Poultry farming business को शुरू करने के लिए सोच रहे है? क्या आप भी गूगल में broiler chicken farming का बिज़नेस करना चाहते है 

आप Poultry farming for eggs का बिज़नेस करना चाहते है क्या आप Poultry farming के बारे में Step by Step पूरी जानकारी चाहते है 

यदि इन सभी सवालो का जवाब “हां ” है 

तो आप बने रहिये हमारे इस ब्लॉग के साथ जहा हम आपको  Broiler chicken farming और Poultry farming for eggs के बारे में सभी जानकारिया  आपके साथ साँझा करेंगे।

Poultry farming business

दोस्तों जैसा की हम सभी जानते है की बिज़नेस करने में जो मजे है वो मजा किसी भी नौकरी में नहीं मिल सकती, यही एक ख़ास वजह है

जिसके कारण आज का युवा बहुत ही तेजी से बिज़नेस की तरफ बढ़ रहा है 

आज इसी बिज़नेस की श्रेणी में हम बात करेंगे Poultry farming बिज़नेस के बारे में , जहा हम Poultry farming बिज़नेस को पूरी तरह से कवर करने की कोशिस किये है 

Poultry farming Business in India

Poultry farming बिज़नेस आज के समय में तेजी से बढ़ रहा है क्युकी इसकी मांग भी तेजी से बढ़ रही है जो की यही ख़ास वजह है 

जिसके कारण लोग Poultry farming बिज़नेस की तरफ बढ़ रहे है।  यह मुख्यतः दो प्रकार से बिज़नेस किया जाता है 

  1. Broiler chicken farming
  2. Layer poultry farming

Broiler chicken farming [ poultry farm business plan in Hindi ]

Broiler chicken farming बिज़नेस में हम मुर्गिया तैयार करते है जिनका उपयोग  मांस के लिए किया जाता है

 यह मुर्गियां कई स्टेज होकर बड़ी होती है जिन्हे तैयार होने में लगभग तीन से चार महीने का समय लग जाता है 

यह शुरुआत में चूजों के रूप में होती है और फिर धीरे यह बड़ी होती जाती है जिसके बाद यह बाजार में बेच दी जाती है 

इस बिज़नेस को शुरू करने से पहले हमे कुछ बातो पर विशेष ध्यान देना चाहिए जो की सही तरीके से न करने पर हमे नुक्सान उठाना पढ़ सकता है 

जिनमे से कुछ इस प्रकार है 

#1  अनुभव या प्रशिक्षण [ murgi palan kaise kare ]

दोस्तों यह सबसे जरुरी भाग है अगर आप पोल्ट्री फॉर्मिंग बिज़नेस शुरू करने जा रहे है तो आपको काम से कम एक साल का अनुभव या प्रशिक्षण  लेना जरुरी है 

क्योंकि कभी कभी पैमानित गणित भी काम नहीं कराती है तो उस समय हमे हमरा अनुभव ही काम करता है 

#2 सही स्थान का चुनाव [ murgi farm business in hindi ]

Broiler Chicken farming बिज़नेस के लिए सबसे महत्वपूर्ण यह है की हमे सही स्थान का चुनाव करना चाहिए।

जिसके लिए हमे निम्नलिखित बातो का ध्यान रखना जरुरी होता है 

  • पानी की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए 
  • बिजली चौबीस घंटे उपलब्ध हो 
  • बहुत ही शांत जगह होनी चाहिए 
  • किसी भी तरह से कभी भी कोई शोर न हो 
  • साधन के आने जाने की पूरी व्यवस्था होनी चाहिए 
  • किसी भी आपातकाल में हमे आपातकालीन सेवाएं जल्दी मिल सके 
  • इत्यादि 

#3 शेड का निर्माण [ murgi palan project in hindi ]

दोस्तों Broiler chicken farming बिज़नेस को करने से पहले हमे शेड का निर्माण करना बहुत ही जरुरी होता है

जिसको Broiler chicken के रहने के अनुकूल ही Desine करना चाहिए। 

दोस्तों हमे शेड को अधिक से अधिक ऊँचा बनाना चाहिए जिससे की गर्मियों में मुर्गियों को ऊपर आने वाली धुप की तपन से बचाया जा सके 

Poultry farming business

हमे शेड को बनाते समय बगल की सभी दीवार को खुली हुयी तैयार करनी चाहिए जिससे की एक प्राकृतिक हवाओ का अनुभव हो सके 

इन खुली दीवारों में जाली जरूर लगवाए जिससे की छोटे छोटे कीट आपके पोल्ट्री फॉर्म में न घुस सके 

इन्हे भी पढ़े  ;-Dairy Farming Business Plan In Hindi 2020 & Project Report

#4 कीटाणु या रोग की रोकथाम [ poultry farming in hindi ]

दोस्तों यह बहुत ही जरुरी होता है की हम चूज़ों को मगाने से पूर्व हमे अपने पोल्ट्री फॉर्म की बहुत ही अच्छे सफाई करनी चाहिए 

वहा आवश्यक कीटाणु नाशक दवा का छिड़काव करे जिससे की सभी रोगो और कीटाणुओं की रोकथाम की जा सके 

अब आपको उनके रहें योग्य जगह को तैयार करने के लिए जमीन पर पहले चूना का छिड़काव कर चावल के छिलके को बिछाना होगा।

#5 तापमान पर नियन्त्र [ murgi palan pdf in hindi ]

आपको तापमान का भी ख्याल रखना होगा जिसे नियंत्रित करने के लिए आपको कुछ जरुरी चीजे खरीदनी आवशयक है 

अगर तापमान अधिक गर्म है तो आपको उसे ठंडा करने के लिए पंखे और वेंटिलेटर पंखे की जरुरत पद सकती है 

और यदि तापमान अधिक ठंडा है तो आपको हीटर की जरुरत पड़ सकती है आप इलेक्ट्रिक हीटर या गैस का हीटर भी ले सकते है 

इसके साथ ही साथ आपको लाइट का भी खास ख्याल रखना पड़ेगा 

#6 चीज़ो को चुनाव [ मुर्गी पालन का तरीका ]

ध्यान रहे की आपको चीज़ो को खरीदते समय ब्रॉइयलेर चीज़े ही  खरीदना है जो की अलग अलग जगह पर अलग अलग दामों पर बिकती है 

आप यह ध्यान जरूर रखे की यदि आप 1 दिन का चुजा ले रहे है तो आप इनका वजन 30 से 40 ग्राम तक होना जरुरी है 

आप यह कोशिश करे की आपके इन चीजें की कीमत अधिक न हो  जितना कम से कम दाम में मिल जाये आपके लिए उतना ही फायदेमंद होगा 

यह चीज़े आपको  20 रुपये से लेकर 40 रुपये तक मिल जो की विभिन्न दामों पर उनके समय और स्थान पर निर्भर कराती है 

#7 कामगारों का चुनाव [ मुर्गी पालन जानकारी ]

दोस्तों अगर आप इस काम के लिए आप किसी अन्य कामगारों का चुनाव करना चाहते है तो आप गलत विचार कर रहे है 

अगर यह काम आप स्वयं करे तो यह आपके लिए बहुत ही फायदेमंद रहेगा जो की आपको कई नुकसान से बचा सकेगा 

8# फीडिंग [how to start poultry farming in india in hindi]

अब दोस्तों वह समय आ गया है जब आप अपने चीज़ो को के खान पान का अच्छे से ध्यान रखना होगा

सही से खान पान का ध्यान रखने से ही आपको मुर्गियों के दाम मिल सकते है 

दोस्तों मुर्गियों के फीडिंग की व्यवस्था बाजार में उपलब्ध होती है जो की आसानी से मिल जाती है 

इन मुर्गियों के फीडिंग को तीन मुख्य भागो में विभाजित किया गया है।  

  • प्री स्टाटर  फीडिंग 
  • स्टाटर फीडिंग 
  • फिनिशर फीडिंग 

जिसमे प्री स्टाटर  फीडिंग  पहले दिन से 10 दिन तक दिया जाता है 

स्टाटर फीडिंग 11 वें दिन से लेकर 20 दिन तक दिया जाता है 

आखिरी में फिनिशर फीडिंग को 21 वें दिन से लेकर आखिरी दिन तक दिया जाता है 

#9 पीने का पानी [ how to start a poultry farm in hindi ]

दोस्तों आपको फीडिंग के साथ साथ यह भी ध्यान देना होगा की पानी की मात्रा  कितना दिया जा रहा है हम आपको यहाँ कुछ आकड़े  साथ साँझा कर रहे है 

यहाँ पर चूज़ा जितने सप्ताह को होता है उसके दोगुने पानी प्रति लीटर 100 चूजा पानी पियेगा 

यदि मुर्गा एक किलो दाना खाता है तो वह दो से तीन लीटर पानी जरूर पियेगा और गर्मियों में यह आकड़ा दोगुना हो जाता है 

#10 ब्रूडिंग [ murgi farm in hindi ]

दोस्तों यह प्रकिया भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है आपके बिज़नेस को सफल करने में। 

 दोस्तों जिस प्रकार मुर्गियाँ अपने चुजो को अपने पंख के नीचे रख कर उन्हें  हल्की गर्मी देती है ठीक उसी प्रकार से आपको भी करना होता है 

पहला सप्ताह – 90 डिग्री F – 95 डिग्री F
दुसरे सप्ताह – 5 डिग्री F प्रतिदिन तापमान कम करते जाएँ जब तक चूज़ों को ठंण्ड ना लगने के अनुसार।

इस प्रक्रिया में आपको अपने फॉर्म का तापमान को बनाये रखना होगा जिसके लिए आप , बिजली का हीटर, बल्ब और गैस का हीटर भी प्रयोग कर सकते है 

दोस्तों यह बहुत ही सावधानी से आपको करना होता है अगर आप उन्हें सही तापमान में नहीं रखते है यह बहुत ही जल्द कमजोर होकर मर जाती है 

इन्हे भी पढ़े  ;- [Top 30] Agriculture Business Ideas In Hindi 2020

#11 दवा और टीकाकरण [ मुर्गी पालन की विधि ]

आपको यह हरदम ध्यान में रखना चाहिए की टीका  केवल स्वस्थ मुर्गियों को दे और बीमार मुर्गियों को एंटीबयोटिक दे 

दिन वैक्सीन या टिके का नामदेने का तरिका
6-7 दिन के भीतरLasota Vaccine/Ranikhet disease लासोटा वैक्सीन/रानीखेत बीमारी के लिएआँख या नाक में बूंद डालने के द्वारा
10-12 दिन के भीतरInfectious Brusal Disease/Gumboro इन्फेक्शस ब्रूसल बीमारी या गुम्ब्रो के लिएठन्डे या बर्फ वाले पानी में, दूध या दूध के पाउडर के साथ
18-21 दिन के भीतरLasota Vaccine( intermediate) लासोटा वैक्सीन का बूस्टर वैक्सीनठन्डे या बर्फ वाले पानी में, दूध या दूध के पाउडर के साथ
24-30 दिन के भीतरGumboro disease गुम्ब्रो बिनरी के लिए बूस्टर वैक्सीनठन्डे या बर्फ वाले पानी में, दूध या दूध के पाउडर के साथ

  ब्रायलर मुर्गियों के लिए सावधानियाँ [ murgi palan ]

  • कुत्ते, बिल्ली, चूहे और बाहरी पक्षियों को फार्म के भीतर ना जाने दें।
  • शेड के बाहर तथा अन्दर महीने में 3-4 बार चुने का छिडकाव करें।
  • बाहर के व्यक्तियों को फार्म तथा शेड के पास न जाने दें !
  • ब्रायलर मुर्गी के दाना को साफ़ सूखे स्थान पर रखें
  • फार्म के शेड के अन्दर घुसने से पहले अपने रबर के जूतों को पहनें और पहन कर 3 प्रतिशत फोर्मलिन में डूबा कर अन्दर घुसें।
  • चूजों के आने के कम से कम 2-4 घंटे पहले ब्रूडर ON करे। 

इन्हे भी पढ़े  ;- Google Se Paise Kaise Kamaye गूगल से पैसे कैसे कमाए 2020

Layer poultry farming in India

Layer poultry farming बिज़नेस के लिए आपको