How to Start a school in India-भारत में स्कूल कैसे खोले

आज हम अपने इस ब्लॉग में चर्चा करेंगे की भारत में स्कूल कैसे खोले (How to Start a school in India ) और उसे अच्छी तरह से कैसे चलाये

जिससे की आपको एक अच्छा मुनाफा हो और विद्यार्थी को इक अच्छा स्कूल मिल सके हम आज सभी तरह के जानकारी आपके साथ साँझा करेंगे ।

दोस्तों जैसा की हम सभी जानते है की आज के समय में माता पिता अपने बच्चो को अच्छी शिक्षा देने के लिए अपने शौक को पीछे रख देते है

जिससे उनके बच्चो को अच्छी शिक्षा मिल सके ,क्युकी ये बच्चे ही उनकी वो जिम्मेदारी होते है जिनमे उनके बहुत सारे सपने और उम्मीद होते है

How to Start a school in India
How to Start a school in India

इसी के लिए वो अपनी कमाई का 25 प्रतिशत अपने बच्चो पर खर्च कर देते है

इसलिए आज के समय में यदि आपने उनके बच्चो के अच्छी शिक्षा देना चाहते है तो यह आपके लिए बहुत ही  अच्छा समय है की आप अपना इक स्कूल खोले ।

तो चलिए आज इस आर्टिकल में हम आगे जानते है की कैसे एक स्कूल खोला जा सकता है और उसको अच्छे से कैसे चलाया भी जा सकता है

स्कूल खोलने के लिए प्लान (Brief Blueprint of Your School in India)

जैसा की हम सभी  को मालूम है की एक अच्छा बिज़नेस शुरू करने से पहले हमे उस बिज़नेस के बारे में अच्छी तरह से प्लांनिग (planning)करनी होती है जैसे की किसी बिल्डिंग को बनाने से पहले हम उसका नक्शा (blue Print ) बनाते है

ठीक उसी प्रकार हम अपने स्कूल को खोलने से पहले उसका नक्शा यानी की उस पर अच्छी प्लांनिग करेंगे जिसके लिए हम आपको एक छोटा आईडिया देते है

स्कूल खोलने के लिए आपको निम्न बिन्दुओ पर आपको विचार करना चाहिए

भारत में स्कूल को खोलने के लिए खर्च (Cost for open a school in India )      

दोस्तों आपको स्कूल खोलने के लिए यदि आप गांव में खोलना चाहते है तो आपको लगभग 50 लाख का खर्च मानकर चहलना चाहिए जिसके बाद आपको कम से कम 10 लाख रुपये का रिज़र्व भी रखना चाहिए जिससे की आपको

Start a school in India
Start a school in India

Board of education का चुनाव

आपको भारत में मुख्य रूप से चार Board मिलेंगे जो की आपको स्कूल चलाने के लिए परमिशन देते है जो की इस प्रकार है

  • Central Board of Secondary Education (CBSE)
  • Council for the Indian School Certificate Examination (ISC/ICSE)
  • International Board (IB)
  • State Boards of 29 States in India

Central Board of Secondary Education (CBSE)

आपको नाम से ही पता चल रहा होगा की यह राष्ट्र लेवल का एजुकेशन बोर्ड है जो की NCERT पठयक्रम को बढ़ावा देता है भारत में इस बोर्ड बहुत ही जयादा ही प्रचलन है

इनका ऑफिसियल साइट पर जाने के लिए आप यहाँ पर क्लिक करे

 Council for the Indian School Certificate Examination (ISC/ICSE)

Council for the Indian School Certificate Examination (ISC/ICSE) भारत में एक निजी तौर पर आयोजित राष्ट्रीय स्तर का स्कूली शिक्षा बोर्ड है

जो क्रमशः दसवीं और बारहवीं कक्षा के लिए भारतीय माध्यमिक शिक्षा प्रमाणपत्र और भारतीय स्कूल प्रमाणपत्र परीक्षा आयोजित करता है। इसकी स्थापना 1958 में हुई थी

Address: P 35-36, Sector VI, Pushp Vihar, Saket, New Delhi, Delhi ११००१७

इनके ऑफिसियल साइट पर जाने के लिए यहाँ पर क्लिक करे

International Baccalaureate / Board (IB)

अंतर्राष्ट्रीय बैक्लेरॉएट (IB), जिसे पहले अंतर्राष्ट्रीय बैक्लेरॉएट ऑर्गेनाइजेशन (IBO) के रूप में जाना जाता था,

एक अंतर्राष्ट्रीय शैक्षिक आधार है जिसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में है और इसकी स्थापना 1968 में हुई थी।

State Boards of 29 States in इंडिया

जैसा की आप नाम से ही जान चुके होंगे की यह भारत के सभी अलग अलग राज्य संचालित करते है जो की अलग अलग नाम से जाने जाते है जैसे की की , कर्नाटक स्टेट बोर्ड , हरियाणा बोर्ड, उत्तर प्रदेश बोर्ड, इत्यादि

Read it also राइस मिल उद्योग & Project report & cost in Hindi

राज्य लेवल के लिए यदि आपको मान्यता चाहिए तो आपको इनके ऑफिसियल साइट या ऑफिस में जाकर इनके द्वारा दिए गए मानकों को तय करना होता है जिसके बाद यह आपको स्कूल चालने के लिए स्वीकृति दे देते है

स्कूल के लिए जगह की व्यवस्था

दोस्तों सबसे पहली चीज है की सही जगह का चुनाव करना जो की आपके बिज़नेस के सफल होने की पहली सीड़ी होती है ,

आपको अपने इस नए बिज़नेस को शुरू करने के लिए जगह का चुनाव करते वक्त कुछ इन महत्वपूर्ण पहलुओं पर जरूर ध्यान देना चाहिए ।

  • जगह का चुनाव ऐसी जगह करे जहा पर और अन्य स्कूल न हो
  • स्कूल ऐसी जगह पर हो जहा पर बिजली की व्यवस्था 24 घंटे हो
  • स्कूल को आप किसी शांत और सिक्योर जगह खोले
  • ट्रांसपोर्ट यानी आने जाने की अच्छी व्यवस्था अच्छी हो
  • इसके साथ ही आपको एक पर्टिकुलर जगह की आवश्यकता भी होगी जो की वह तय करेगा जिसके साथ आप मान्यता लेंगे जैसे

Requirement of Land Based on Place and Board: CBSE Board

यदि आप CBSE बोर्ड के साथ आप अपना बिज़नेस स्टार्ट करना चाहते है तो आपको इसके लिए उनके मानक जगह जैसे महानगरों के 4000 वर्ग meater या उससे अधिक और यदि आप यह स्कूल किसी छोटे शहरों में शुरू करना चाहते है तो आपको 2500 sq meter जगह की जरुरत होती है

और यदि यह स्कूल को आप किसी गांव में शुरू करना चाहते है तो आपको इसके लिए 1.5 एकर्स जगह की आवश्यकता होती है

Requirement of Land Based on Place and Board: CISCE

दोस्तों यदि आप CISCE यानी Council for the Indian School Certificate Examinations के साथ मिलकर अपना स्कूल खोलना चाहते है तो आपको इसके अपने पैमानों के अनुसार आपको जगह की आवशयकता होगी जो की इस प्रकार है

इसके लिए  आपको अपने स्कूल के सभी रूम को 400 sq feet में बनाना होगा जो की कम से कम होना चाहिए और यदि जरुरत होती है तो इसे बढ़ाया भी जा सकता है

Start a school in India

आपको आपके  पूरे स्कूल को कम से कम 2500 वर्ग फ़ीट में होना चाहिए ।

Construction of School Building

दोस्तों अब आपको अपने स्कूल की बिल्डिंग का निर्माण करना होगा जिसमे आपको 400 वर्ग फ़ीट का क्लासरूम, प्ले ग्राउंड (Play ground), साइंस रूम (Science room), लैब (Lab), कम्यूटर लैब(Computer lab), स्टेज (Stage) इत्यादि ।

इन सभी को तैयार करना इसके बाद आपको MCD से अपने स्कूल का प्रस्ताव भी पास करना होता है

Starting a School and NOC

अब आपको अपने स्कूल के लिए NOC सर्टिफेकट की जरुरत होती है जो की आपको राज्य सरकार की तरफ से मिलेंगे जिसके लिए आपको राज्य सरकार से आवेदन करना होता है

आपको NOC की जरुरत संबंधन के समय पर जरुरी होता है जो की आप किसी भी एजुकेशन बोर्ड से संबंधन प्राप्त करना चाहे तो आपको इसकी जरूरत होती है

Affiliation to Board for Start a school in India

आपको affiliation के लिए आपको निम्न चीजों का ध्यान रखना होता है जैसे की आपका स्कूल कम से कम इक साल पुरानी होनी चाहिए जिसमे आप प्ले ग्रुप या प्राइमरी क्लास (Primary Classes)को आप चला सकते है

इन सबके साथ आपको आपके क्लास रूम (Classroom), नंबर ऑफ़ टीचर(number of teachers) और आपका स्टाफ भी इसके लिए बहुत ही अहम् रोल निभाता है

Setting up structure For Start a school in India

आपको अपने स्कूल का संरचना पर भी ध्यान देना होगा जिसमे आपको आपके स्कूल के लिए स्टाफ की नियुक्ति करनी होगी जो की कुछ इस तरह होगी

आपको आपके स्कूल के लिए वाईस प्रिंसपल,प्रिंसपल ,टीचर्स , असिस्टेंट टीचर्स, अकाउंटेंट, लैब अस्सिटेंट, कंप्यूटर एक्सपर्ट, चपरासी, ड्राइवर इत्यादि की नियुक्ति करनी होगी

Rules and Parameters For Start a school in India

अब आपको आपके स्कूल के सभी क्लास के लिए कुछ नियम निर्धारित करने होंगे जिसमे आपको किस क्लास के बच्चो की फीस कितनी होगी, आपके क्लास में अधिकतम (45)कितने बच्चे होंगे,

स्कूल का टाइम क्या होना चाहिए, स्टाफ को पेमेंट कितना देना है, फीस की अंतिम डेट और उस पर पेनल्टी क्या होंगी, बच्चो के लिए ट्रांसपोर्ट इत्यादि ।

चेतावनी

दोस्तों स्कूल चलना कोई आसान काम नहीं है क्युकी इसमें भी अन्य बिज़नेस की तरह कई सारे समस्याएं है जैसे की कम्पटीशन का अधिक होना, स्कूल का मैनेजमेंट इत्यादि

यदि आप यह सोच कर स्कूल खोलना चाहते है की आप शिक्षा में कोई क्रांति करि बदलाव लाना चाहते है तो आप कर सकते है किन्तु हम आपको फिर भी सचेत करते है की भारत में स्कूल खोल कर (Start a school in India)उसे सफल रूप से चलाया जा सके यह आसान नहीं है

इसे भी पढ़े

This Post Has 2 Comments

  1. Royal CBD

    I’ve been surfing online more than three hours today, yet I never found any interesting article like
    yours. It is pretty worth enough for me. In my view, if all webmasters and bloggers
    made good content as you did, the internet will be much more useful
    than ever before.

  2. TerrePoKed

    The Only Guide to purchasing College Essays IS CURRENTLY Easier Than Ever. But Buyer … Allow’s come to be truthful. Creating essays and also several other scholastic documents could be a challenge for just about any kind of pupil. There’s actually no pity in speaking with an individual for support. If you google the word “compose my essay”, you will certainly view numerous websites using composing companies for cash. And EssayShark is definitely one particular companies.4 Alongside expositions, our specialists can easily prep a discussion, speech, situation research study, research paper, dissertation, along with a lot more. Our writers division may take care of any kind of assignment of any kind of difficulty quickly. All you have to to have is to provide our company thorough guidelines to greatly help our pros recognize the experience. Our experts recognize that students are in reality strict on spending plan, which explains why our team carry out all possible to make the company economical for just about any sort of wallet.

    [url=https://www.ukdissertations.net/buy-dissertation/]buy dissertation online[/url]

Leave a Reply